आख़िर आज़ादी की आधी रात से पहले पर्दे के पीछे हुआ क्या था ?

इतिहास में एक प्रश्न हमेशा बना रहेगा कि अगस्त 15 , 1947 के दिन आधी रात में स्वतंत्रता की खुशी के साथ लाखों महिलाओं और बच्चों की हत्या के लिए…

0 Comments

जलियांवाला बाग़ हत्याकांड के कुछ अनजाने पहलू

गांधीजी की यह धारणा कि अंग्रेज शिक्षित, सभ्य और सुसंस्कृत थे, जब जब की ब्रिटिश जल्लाद जनरल डायर ने अमृतसर के जलियांवाला बाग में ठंड में सैकड़ों निर्दोष पुरुषों और…

0 Comments

रॉबर्ट क्लाइव से लेकर गान्धीजी तक का सफ़र

रॉबर्ट क्लाइव से लेकर गान्धीजी तक का सफ़र इतिहास की तारीख में बनने वाली घटनाए विधाता के खेल जेसे होती है , नसीब के पांसे कभी उलटे के बदले सीधे…

0 Comments